विंबलडन 2017: इतिहास रचने से एक कदम दूर फेडरर, फाइनल में पहुंचे

स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर टॉमस बर्डिच को सीधे सेटों में मात देकर 11वीं बार विंबलडन के फाइनल में पहुंचे

0
541

सात बार के चैंपियन स्विट्जरलैंड के स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर शुक्रवार को टॉमस बर्डिच को हराकर 11वीं बार विंबलडन के फाइनल में पहुंच गए हैं. सेमीफाइनल में फेडरर ने जोरदार खेल का प्रदर्शन करते हुए 2010 के उपविजेता चेक गणराज्य के बर्डिच को सीधे सेटों में 7-6 (7/4), 7-6 (7/4), 6-4 से मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई.

35 वर्षीय फेडरर अपना आठवां विंबलडन खिताब जीतने के लिए रविवार को क्रोएशिया के मारिन सिलिच से भिड़ेंगे. सातवीं वरीयता प्राप्त सिलिच अपने 11वें प्रयास में पहली बार विंबलडन के फाइनल में पहुंचे हैं. सिलिच ने सेमीफाइनल में अमेरिका के सैम क्वैरी को 6-7 (6/8), 6-4, 7-6 (7/3), 7-5 से मात दी.

सेमीफाइनल में बर्डिच को मात देने के बाद फेडरर ने कहा, ‘मैं एक और फाइनल में पहुंचकर और एक बार फिर से सेंटर कोर्ट पर खेलने का अवसर मिलने से बेहद खास महसूस कर रहा हूं.’

वह अपने करियर में कुल 29वीं बार किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पहुंचे हैं और अब तक सबसे ज्यादा 18 ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुके हैं. 1974 में केन रोसवेल के विंबलडन का उपविजेता रहने के बाद फेडरर विंबलडन के फाइनल में पहुंचने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी हैं.

फैब फोर में शामिल एंडी मरे और नोवाक जोकोविच की क्वॉर्टर फाइनल और राफेल नडाल के अंतिम-16 से ही बाहर हो जाने के बाद फेडरर को खिताबी जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. अगर फेडरर खिताब जीतते हैं तो वह विंबलडन जीतने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन जाएंगे. इससे पहले 1975 में आर्थर ऐशे ने 32 साल की उम्र में विंबलडन जीता था.

फेडरर का टॉमस बर्डिच के खिलाफ पलड़ा हमेशा से भारी रहा है. उन्होंने सेमीफाइनल से पहले बर्डिच के खिलाफ 24 मुकाबलों में से 18 में जीत हासिल की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here