विरोध में लोगो ने निकाली नरेन्द्र मोदी की अर्थी

0
532

यू तो आपने कई तरह के विरोध प्रदर्शन देखे होंगे मगर ये कुछ हट कर है जिसमे जनता जनार्दन अपने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अर्थी निकाल रही है | मामला था जल्लीकट्टू पर लगे प्रतिबंध का जिस पर लोगो ने मोदी के खिलाफ प्रदर्शन किया था |

modi1

जल्लीकट्टू क्या है? और क्यों सुप्रीम कोर्ट ने इस पर लगाया प्रतिबंध

फसल कटाई के मौके पर तमिलनाडु में चार दिन का पोंगल उत्सव मनाया जाता है जिसमें तीसरा दिन मवेशियों के लिए होता है| तमिल में जली का अर्थ है सिक्के की थैली और कट्टू का अर्थ है बैल का सींघ |

जल्लीकट्टू को तमिलनाडु के गौरव तथा संस्कृति का प्रतीक माना जाता है| इस खेल की परंपरा 2500 साल पुरानी बताई जाती है| खेल के दौरान बैलो को भीड़ में दौड़ाया जाता है और जो भी आदमी बैल को काबू करने में कामयाब होता है उसे इनाम दिया जाता है | अब पशु प्रेमीयो ने इस खेल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में आवाज़ उठाई है जिसके चलते कोर्ट ने इस पर प्रतिबन्ध लगा दिया था |

उनका मानना है जल्‍लीकट्टू खेल के दौरान बैलों के साथ क्रूरता की घटनाएं होती हैं | इस खेल में रोमांच लाने के लिए बैलों को भड़काया जाता है इसके लिए उन्हें शराब पिलाने, नुकीली चीजों से दागने, उनपर सट्टा लगाने से लेकर उनकी आंखों में मिर्च डाला जाता है और उनकी पूंछों को मरोड़ा तक जाता है, ताकि वे तेज दौड़ सकें |

क्यों हुआ मोदी के खिलाफ प्रदर्शन?

तमिलनाडु के लोग इस खेल को अपनी संस्कृति का अभिन्न अंग मानते है और जैसे ही सुप्रीम कोर्ट ने इस पर प्रतिबन्ध लगा लोगो का गुस्सा सडको में फूट पड़ा और उन्होंने मोदी की अर्थी यात्रा निकाली |

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल्लीकट्टू के समर्थन में ट्वीट किया, ‘हम लोगों को तमिलनाडु की संपन्न संस्कृति पर गर्व है।

तमिल लोगों की सांस्कृतिक आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हरसंभव कोशिश की जाएगी।’ दूसरे ट्वीट में मोदी ने लिखा, ‘केंद्र सरकार तमिलनाडु के विकास के लिए हर कदम उठाने को तैयार है।’ इससे पहले केंद्र सरकार ने जल्लीकट्टू के लिए आए अध्यादेश के ड्राफ्ट को मंजूरी दे दी थी।

गौरतलब है कि जल्लीकट्टू पर लगे बैन को हटाने के लिए तमिलनाडु समेत पूरे देश में प्रदर्शन हो रहा था। सुप्रीम कोर्ट ने मई 2014 में जल्लीकट्टू पर फैसला दिया था। उसमें इस खेल में सांडों के प्रयोग को बंद करने का ऐलान किया था। साथ ही कहा था जो भी ऐसा करेगा तो माना जाएगा कि उसने कानून तोड़ा है।

देखिये वीडियो:-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here