थमी मुंबई: तेज बारिश ने ली 3 की जान,अगले 24 घंटे रेड Alert पर मायानगरी

0
248
mumbai-rain

मुंबई पर आसमान से आफत बरस रही है। कल से हो रही मुसलाधार बारिश ने मायानगरी मुंबई की रफ्तार पर ब्रेक लगा दी है। मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे मुंबई में तेज बारिश की संभावना जताते हुए चेतावनी जारी की है। यही नहीं, इस बारिश ने 2 बच्चे समेत 3 की जान ले ली है, कई लोग घायल हो गए हैं।

बीते दिनों इस बारिश की वजह से 40 से ज्यादा एक्सीडेंट हुए।29 अगस्त, 2017 को जारी आंकड़ों के मुताबिक सुबह आठ बजे से दोपहर तीन बजे तक 105 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। देर रात 2 बजे तक रुक-रुक कर बारिश होती रही। पूरी रात मुंबई वालों के लिए ट्रेनें चलीं। आज सुबह में जाकर अंधेरी से घाटकोपर की मेट्रो रेल सेवा सामान्य हुई।

मुंबई डीसीपी के पीआरओ ने बताया कि कई इलाकों से पानी निकाला जा रहा है। रास्ते सामान्य हो रहे हैं और लोगों की जिंदगी पटरी पर लौट रही है। हालांकि कुछ कुछ इलाकों में अब भी पानी भरा हुआ है।

मकान ढहने से 3 की मौत, हुई लैंडस्लाइड

मुंबई के विक्रोली में मकान ढहने से 2 बच्चों समेत 3 की मौत हो गई है। हजारों लोग बारिश की वजह से फंसे हुए हैं। बीते दिनों मुंबई में हुई लगातार बारिश ने साल 2005 की दहशत याद दिला दी है। उस साल हुई बारिश में हजारों की जान गई थी। मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन की तीनों लाइन में से ट्रांस हार्बर लाइन पूरी तरह से ठप है। लेकिन चर्च गेट की लाइन चालू हो गई है। स्कूल कॉलेज सब बंद है। नौसेना और स्थल सेना लोगों को राहत पहुंचाने के काम में जुटी है। कई इलाकों में पानी निकलने का नाम ही नहीं ले रहा है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ये घटना पहाड़ी सूर्य नगर की है जहां उंचाई पर स्थित एक मकान नीचे वालों पर गिर पड़ा जिसमें डेढ़ साल का निखिल, 40 वषीर्य सुरेश अर्जुन प्रसाद मौर्य और किरण बेबी पाल (25) फंस गए। उन्होंने कहा कि उन्हें पास के सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां निखिल और मौर्य की रास्ते में ही मौत हो गई।

बीएमसी लाचार, जारी किया हेल्पलाइन नंबर 

बारिश के कारण मुसीबत में फंसे लोगों के लिए इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर 1916 जारी किया गया है। बीएमसी इस बार भी लाचार नजर आ रही है। बीएमसी ने 30 हजार कर्मियों को राहत में लगाया है। सभी कर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है।

साल 1997 के बाद से इस अगस्त में एक दिन में सर्वाधिक बारिश दर्ज

मुंबई में बीते दिनों 298 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। यह वर्ष 1997 से अबतक अगस्त में एक दिन में हुई सर्वाधिक बारिश है। सांताक्रूज मौसम केंद्र ने 298 मिमी बारिश दर्ज की। आंकड़ों के अनुसार इससे पहले 23 अगस्त 1997 में 346.2 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। मुंबई में क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक अजय कुमार ने  बताया कि आज भी बारिश की संभावना है। मंगलवार से ज्यादा बारिश बुधवार को हो सकती है।

थम गई जिंदगी, स्कूल कॉलेज आज भी बंद रहेंगे

मुंबई में भारी बारिश के कारण रेल सेवाएं और यातायात सेवा बाधित है। लोग अपने घरों से नहीं निकल पा रहे हैं। आज भी स्कूल और कॉलेज बंद के निर्देश दिए गए हैं। सड़कों पर भारी जाम के कारण यातायात बाधित रहा। मंगलवार को ट्रैफिक व्यवस्था चड़मड़ाई रही। अस्पतालों में पानी घुस गया है। लोगों को नीचले वॉर्ड से ऊपर मंजिलों में शिफ्ट किया गया है।

हेलीकॉप्टर, नौसेना के गोताखार, एनडीआरएफ के दल अलर्ट पर, 10 टीमें तैनात

मुंबई और इसके आस-पास के इलाकों में भारी बारिश के मद्देनजर नौसेना के हेलीकॉप्टरों को एहतियातन राहत एवं बचाव कार्यों में तैनात करने के लिए तैयार रखा गया है और एनडीआरएफ को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है।

नौसेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि बाढ़ बचाव दल एवं गोताखोर भी तैनाती के लिये तैयार हैं। पांच बाढ़ बचाव दल और गोताखोरों के दो दल मुंबई में विभिन्न स्थानों पर सहायता मुहैया कराने के लिए तैयार हैं। मुंबई स्थानीय निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश के कारण पैदा होने वाली किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के पांच दलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here