70 प्रतिशत लोगों की एक राय: 1000 रूपए के नोट की हो वापसी

0
451
A-fan-of-one-thousand-rupee-notes-Indian-Currency-Stock-Photo

पूरे भारत में 1000 का नोट बंद कर दिया गया है। जिसका सामना पूरा देश कर रहा है। 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी के तहत 500 और 1000 के नोट बंद करा दिए थे। लेकिन अब लोग चाहते हैं कि 1000 का नोट वापस लौटे। दरअसल, लोगों की ये एक राय एक सर्वे के दौरान आई है। सर्वे के अनुसार इस नोटबंदी के करीब 10 महीने बाद भी देश की 70 फीसदी आबादी चाहती है कि एक हजार का नोट फिर से शुरू होना चाहिए।

सरकार ने जब इन नोटों को बदं कर दिया था तो 86 प्रतिशत करेंसी की रनिंग वैल्यू खत्म हो गई थी। हाल ही में जब रिजर्व बैंक ने आंकड़े जारी किए , जिसमें बताया गया है कि 99 फीसदी करेंसी वापस आ गई है। बता दें कि ये सर्वे हैदराबाद की न्यूज एप “वे20 ऑनलाइन” ने किया है। इसके अनुसार सर्वे में भाग लेने वाले करीब 69 प्रतिशत लोगों ने 1000 के नोटों को वापस लाने के सवाल पर हां जवाब दिया है।

सर्वे में सामने आया है कि नोटबंदी के दौरान 62 प्रतिशत लोगों को नोट बदलवाने के लिए कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। वहीं 38 प्रतिशत लोगों को नोट बदलवाने में कोई दिक्कत नहीं हुई।

सर्वे में ये भी पूछा गया कि क्या 200 रूपए के नोट से ट्रांजेक्शन की समस्या दूर हो सकती है इस पर करीब 67 प्रतिशत लोगों ने पॉजिटिव जवाब दिया है। वहीं 17 प्रतिशत लोगों ने ना में जवाब दिया है। सरकार के इस कदम से केवल 8 प्रतिशत लोगों पर कोई असर नहीं पड़ा है। वो इसलिए क्योंकि उन्होंने ट्रांजेक्शन के डिजिटल अपना लिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here