शादी के लिए 7 नहीं लेने होंगे 8 वचन, जानिए इसके पीछे की कहानी

0
387
Indian-wedding

अभी हाल ही में तेलंगाना सरकार ने घोषणा की है कि मंदिरों के पुजारियों से शादी करने वाली लड़कियों को तीन लाख रुपए दिए जाएंगे. इसके साथ ही एक लाख रुपए शादी के खर्च के लिए अलग से दिए जाएगे. इसी बीच अब खबरे है कि बिहार में शादी के दौरान अब सात नही बल्कि आठ वचन लेने होगे.

# ये है आठवां वचन

Indian Marriages,8 vows,Bihar Government

Indian Marriages,8 vows,Bihar Government

दरअसल बिहार में अगर शादी करनी है तो आपको पहले शपथ पत्र देना होगा. विवाह में सात वचन दिए जाते है लेकिन यह शपथ पत्र आठवां वचन होगा जिसमें लिखना होगा कि यह विवाह बाल विवाह नहीं है और इसमें दहेज का कोई लेन देन नही है. बता दें कि यह बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत यह शपथ पत्र देना जरूरी होगा. वही शपथ पत्र भरवाने का काम मैरेज हॉल के प्रबंधकों का होगा.

# ऑनलाइन होगी प्रोसेस

बताया जा रहा ही कि बिहार सरकार जल्द ही यह पूरी प्रोसेस को ऑनलाइन कर सकती है फ़िलहाल अभी यह शपथ पत्र मैरिज हॉल सामुदायिक भवन, होटल या ऐसे किसी भी सार्वजनिक जगहों पर हो रही शादी करते समय संबंधित संस्थान के संचालक के पास जमा करानी होगी. बताते चले कि 2 अक्टूबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार के ज्यादातर दफ्तर दहेज न लेने और न देने की शपथ दिलवाई साथ ही कहा था कि दहेज का लेन-देन वाली शादी का वह विरोध करेगे .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here